Site icon Tubebite

पानी पुरी से लेकर आइसक्रीम तक, पाचन संबंधी समस्याओं से बचने के लिए इस गर्मी में इन 10 स्ट्रीट फूड से करें तौबा

Top 10 unhygienic street food in India

Top 10 unhygienic street food in India

Top 10 unhygienic street food in India – इस गर्मीं सड़क विक्रेताओं से खरीदे गए पानी पुरी, आइसक्रीम और नींबू पानी का सेवन करने से पहले दो बार अवश्य सोचें क्योंकि ज्यादातर स्ट्रीट फ़ूड विक्रेताओँ द्वारा साफ़ सफाई का ज्यादा ध्यान नहीं दिया जाता और पानी भी वे यहाँ वहां से नल से ले लेते हैं जो दूषित भी हो सकता है जिससे पानी पाचन संबंधी परेशानी पैदा होती है। इस तरह की परेशानी होने पर सबसे पहले उलटी दस्त की समस्या सबसे पहले होती है जिससे गर्मी की वजह से शरीर में जल्द ही पानी की कमी होने लगती है और समस्या विकराल हो जाती है।

इस समय चूँकि मुंबई, पुणे, गुजरात सहित भारत के अन्य शहर लू की चपेट में हैं, इसलिए अपने पेट के स्वास्थ्य का ध्यान रखना महत्वपूर्ण है। क्योंकि गर्मी के महीनों में शरीर के जो कार्य सबसे अधिक प्रभावित होते हैं उनमें आपका पाचन तंत्र भी शामिल है। अत्यधिक गर्मी की स्थिति के दौरान, हमारा मेटाबोलिज्म धीमा हो जाता है और उच्च कैलोरी और वसायुक्त खाद्य पदार्थों को पचाना मुश्किल हो जाता है। उच्च तापमान में, बैक्टीरिया और रोगाणु पनपते हैं और इससे भोजन-जनित संक्रमण और पाचन संबंधी समस्याओं का खतरा बढ़ सकता है। स्वच्छता कारकों पर विचार किए बिना स्ट्रीट फूड खाना इस दौरान समस्याग्रस्त हो सकता है क्योंकि व्यक्ति को टाइफाइड, पीलिया और अन्य आंत स्वास्थ्य समस्याएं हो सकती हैं।

स्वास्थ्य विशेषज्ञ बताते हैं कि टाइफाइड और पीलिया के मामले इसी वजह से गर्मी में ज्यादा बढ़ते हैं। आइसक्रीम या पानी पुरी या छोले भठूरे में इस्तेमाल होने वाले दूषित पानी से जुड़ी है, जो बदले में पेट में ऐंठन, पेचिश और असहनीय दर्द जैसी परेशानी का कारण बन सकती है। इसलिए स्ट्रीट फ़ूड बेचने वालों से कुछ भी खरीदने से पहले ये जरूर देख लें कि वो साफ़ सफाई का इस्तेमाल कर रहे हैं या कम से कम इतना तो अवश्य ही देख लें कि वो पानी कैसा इस्तेमाल कर रहे हैं। इसलिए अगर वो साधारण नल का या डिब्बे में रखा पानी इस्तेमाल कर रहे हैं तो वहां से चले जाने में ही आपकी भलाई है।

किस तरह के स्ट्रीट फूड ज्यादा दूषित हो सकते हैं

यहाँ पर अब हम आपके लिए लाये हैं एक लिस्ट जिससे आप जान सकते हैं कि किस तरह के स्ट्रीट फूड खाने चाहिए और कैसे नहीं

  1. जहां कहीं भी ताजे कटे फल और सब्जियां हों तो और वो ज्यादा देर के हो तो ये जल्दी ही बैक्टीरिया के लिए प्रजनन स्थल बन सकते हैं। दूषित फलों और सब्जियों के सेवन से खाद्य विषाक्तता और गैस्ट्रोइंटेस्टाइनल समस्याएं हो सकती हैं।
  2. समुद्री भोजन जैसे मछली टैकोस, केविच और झींगा स्कूवर लोकप्रिय स्ट्रीट फूड आइटम हैं, खासकर तटीय क्षेत्रों में। पर ये समुद्री भोजन गर्मी में जल्दी ही ख़राब हो सकता है, जिससे जीवाणु संक्रमण और परजीवी रोगों जैसी खाद्य जनित बीमारियों का खतरा बढ़ जाता है।
  3. डेयरी आधारित आइसक्रीम, कुल्फी और मिल्कशेक गर्मियों के लोकप्रिय व्यंजन हैं। हालाँकि, इन मिठाइयों को बैक्टीरिया के विकास को रोकने के लिए उचित प्रशीतन की आवश्यकता होती है। गर्मी में छोड़े गए डेयरी उत्पादों का सेवन करने से पेट खराब हो सकता है और खाद्य जनित बीमारियाँ हो सकती हैं।
  4. ग्रिल्ड मीट स्कूवर्स और कबाब ये गर्मियों के स्ट्रीट फूड उत्सवों का मुख्य हिस्सा हो सकते हैं, लेकिन अगर इन्हें अच्छी तरह से न पकाया जाए तो ये जोखिम भरे हो सकते हैं। अधपका या अनुचित तरीके से संभाला गया मांस ई. कोली और साल्मोनेला जैसे हानिकारक बैक्टीरिया को पनपा सकता है, जिससे गंभीर खाद्य विषाक्तता हो सकती है।
  5. स्ट्रीट फूड विक्रेता अक्सर अपने व्यंजनों का स्वाद बढ़ाने के लिए घर में बने या बिना पाश्चुरीकृत सॉस, चटनी और मसालों का उपयोग करते हैं। अगर इन मसालों को ठीक से संग्रहीत और संभाला न जाए तो ये संदूषण का एक छिपा हुआ स्रोत हो सकते हैं। दूषित सॉस और मसालों का सेवन करने से खाद्य जनित बीमारी का खतरा बढ़ सकता है

अब अगर इस तरह के स्ट्रीट फ़ूड की बात करें तो फलों के रस, पानी पूरी, आइसक्रीम, शिकंजी और शरबत आदि ठंडा पदार्थ जिसमें पानी हो उसका सेवन न करने का प्रयास करें या करना भी चाहें तो ऐसी जगह का करें जहाँ आपको पानी की साफ़ सफाई का विश्वास कर सकें।

अगर आप समोसे, कचौरी, छोले भठूरे या चाट के शौक़ीन हैं तो आप इनसे बचने का प्रयास करें क्योंकि कीमत कम करने के चक्कर सस्ते और ख़राब तेल का इस्तेमाल करते हैं और कभी कभी दूषित जल का भी इस्तेमाल भी करते हैं।

तो क्या आप गर्मियों में न ठंडे और न ही गर्म स्ट्रीट फ़ूड का खा सकते हैं। तो हम आपको बता दें कि गर्मियों में दूषित जल से होने वाली बीमारिया ज्यादा फैलती इसलिए गर्मियों आपको सावधान रहने की ज्यादा जरुरत होती हैं और क्योंकि दूषित जल और दूषित तेल से बनी सामग्री आपको बीमार बना सकती हैं और गर्मियों में ये ज्यादा खतरनाक हो सकता है। और अगर आपको झंझट नहीं लगता तो आप अपने घर से ही खाने का सामान बना कर ले जा सकते हैं और जहाँ चाहे वहां इसका आनंद ले सकते हैं या फिर किसी ऐसी दुकान से चटपटे खाने का आनंद लें जहाँ की साफ़ सफाई के बारे में आप पूरी तरह से निश्चिन्त हों।

See Also – Kokernag Tourist Places For Your Next Holiday Destination | इस बार घूमने के लिये उत्तराखंड और हिमाचल नहीं बल्कि कोकरनाग का प्लान बनायें

See Also – Mere Laddu Gopal in Hindi | लड्डू गोपाल को घर में लाने और उनकी पूजा करने के फायदे और नियम

See Also – Ration Card 2024 Apply Online Status Check Update | ऑनलाइन आवेदन तथा स्टेटस चेक

See Also – Chia seeds ke fayde aur nuksan in hindi सुपरफूड चिया सीड्स के फायदे और नुकसान हिंदी में

See Also – DD Free Dish Channel List 2024 : फ्री डिश चैनल की पूरी लिस्ट, अब इतने ज्यादा चैनल मिलेंगे बिल्कुल मुफ्त

Exit mobile version