Best 18 Popular Hindi Lokgeet Lyrics पॉपुलर हिंदी लोकगीत लिरिक्स

Table of Contents

Popular Hindi Lokgeet Lyrics मुख्य रूप से lokgeet in hindi का एक बेहतरीन कलेक्शन है जिसमें आपको Lokgeet Kya Hota Hai, lokgeet ke prakar, Hindi Lokgeet Lyrics,lok geet in hindi lyrics के बारे में भी विस्तार से जानकारी मिलेगी।

Best18 Popular Hindi Lokgeet Lyrics – भारत में लगभग हर ख़ुशी के अवसर जैसे मेहंदी, विवाह, शिशु जन्म तथा अन्य अवसर के लिए कुछ न कुछ हिन्दी लोकगीत बनाये गए हैं। इसमें बहुत से गीत तो बहुत ही पुराने हैं जो कब बनाये गए हैं ये किसी नहीं पता और हमारी दादी नानियों के समय से चले आ रहे हैं पर कुछ हिन्दी लोकगीत तो इस समय के प्रचिलित बॉलीवुड गानो की तर्ज पर बनाये गए हैं।

हमारे यहां प्रचलित लोकगीत (हिन्दी) के कई प्रकार भी होते हैं जैसे सोहर, जच्चा बच्चा गीत, मेहंदी गीत, विवाह गीत तथा देवी गीत आदि। इन हिंदी लोकगीत में से कई तो इतने पॉपुलर हैं कि हमारी फिल्मों में उन्हें ज्यों का त्यों इस्तेमाल कर लिए गया है जैसे बन्नी गीत फिल्मी तर्ज पर lyrics, इस तरह के लोकगीत के उदाहरण “इचक दाना बिचक दाना” और “कच्ची पक्की कलियाँ हिलाया न करो” आदि हैं।

लोकगीत हमारे घर परिवार के सभी शुभ समारोह की जान हैं। हमारे यहां हर शुभ मौके के लिए अलग अलग लोकगीत हैं। हमारे घर के महिलायें अक्सर इंटरनेट पर लोकगीत सर्च करती रहती हैं। इसलिए आज हम आप लोगों के लिए Best18 Popular Hindi Lokgeet Lyrics लाये हैं। अगर आपको ये अच्छा लगता है तो इसे शेयर अवश्य करें।

इस समय जब लोग नयी पीढ़ी के लोग पाश्चात्य संस्कृति के चपेट में आ चुकी है और उसे लगता है कि हमारी संस्कृति में मनोरंजन का कोई स्थान नहीं है ऐसे लोगों को हमें ये पेज अवश्य शेयर करना चाहिए ताकि वो भी जान सकें कि हमारे यहाँ न सिर्फ मनोरंजन बल्कि हर समय पर हर किसी के मनोरंजन का ख़ास प्रावधान है। इसी कड़ी में Popular Hindi Lokgeet हैं जिनकी Lyrics लेकर आज हम आपके लिए हाजिर हुए हैं।

बहुत से लोग Popular Hindi Lokgeet को एकदम शर्म की नजर से देखते हैं बल्कि हिंदी को ही शर्म की नजर से देखते हैं जैसे ये कोई अपमान की बात हो शादी या किसी अन्य समारोह में Popular Hindi Lokgeet Lyrics गाना तो बहुत दूर की बात है पर हम आपको बता दें Popular Hindi Lokgeet भी हमारी संस्कृति का हमारी पहचान का हिस्सा है और ये गर्व की बात है कि हमारी भी बाकी दुनिया से अलग भी को पहचान है। तो फिर आज से आप अपने घर के फंक्शन में Popular Hindi Lokgeet Lyrics में कोई भी लोकगीत चुनकर गायें और उनका आनंद लें।

लोकगीत क्या होता है Lokgeet Kya Hota Hai

वास्तव में लोकगीत लोक के गीत ही हैं। इन गीतों का रचियता कोई एक व्यक्ति नहीं बल्कि पूरा लोक समाज होता है। इसलिए ये लोकगीत आमतौर पर बिना किसी प्रचार के उस समाज में फ़ैल जाते हैं। और इन्ही लोक में प्रचलित, लोक द्वारा रचित एवं लोक के लिए लिखे गए गीतों को लोकगीत कहा जा सकता है। चूँकि ये लोकगीत ग्रामीण लोगों में ज्यादा प्रचिलित होते हैं इसलिए सरकार भी किसी भी प्रकार के जागरूकता अभियान के लिये भी अक्सर इन्ही लोकगीत का ही सहारा लेती है।

Popular-Hindi-Lokgeet-Lyrics
Popular-Hindi-Lokgeet-Lyrics

लोकगीत के प्रकार lokgeet ke prakar

हमारे यहां कई प्रकार के हिंदी लोकगीत प्रचलित हैं जो कि अलग अलग अवसरों के लिये अलग अलग गीत बनाये गए हैं। जैसे जब बच्चे पैदा होते हैं तो उसकी माँ के लिये सोहर गीत होते हैं इन्हे कहीं कहीं जच्चा बच्चा गीत भी कहा जाता है। विवाह के समय में मेहँदी के समय के लिए मेहँदी गीत गाये जाते हैं। और विवाह के समय विवाह गीत या बन्ना बन्नी गाये जाते हैं।

लोकगीत न सिर्फ हमारी संस्कृति की पहचान बल्कि ये हमें हमारी मातृभूमि से भी जोड़ता है। हमारे यहाँ शादी, ब्याह,बच्चे पैदा होने पर तथा अन्य शुभ काम के लिए अलग अलग लोकगीत है। ये हमारी एक अलग पहचान बनाता है। साथ ही ये हमारे यहां नन्द भाभी, देवर भाभी, सास बहु जैसे रिश्तों में अलग प्यार जगा देता है।

ले लूँगी भाभी रानी से कँगना – Hindi Lokgeet Lyrics


ले लूँगी भाभी रानी से कँगना-२

कँगना-कँगना मत कर ननदी
आने न दूंगी आँगना, भाभी रानी से कँगना
अँगना क्या भाभी मेरी तेरे बाप का
मेरे बाप का अँगना रे भाभी रानी से कँगना

ले लूँगी भाभी रानी से कँगना-२

अँगना-अँगना मत कर ननदी
छूने न दूंगी पलना, भाभी रानी से कँगना
पलना क्या भाभी मेरी तेरे भतीजे का
मेरे भतीजे का पलना रे भाभी रानी से कँगना

ले लूँगी भाभी रानी से कँगना-२

पलना-पलना मत कर ननदी
छूने न दूंगी लालना, भाभी रानी से कँगना
ललना क्या भाभी मेरी तेरे वीरन का
मेरे वीरन का ललना रे भाभी रानी से कँगना

मैं हारी तू जीती ननदिया,
ले जाओ तुम ये कंगना
ले लूँगी भाभी रानी से कँगना-२

हुए देवकी के लाल, यशोदा जच्चा बनी – lok geet in hindi lyrics

हुए देवकी के लाल, यशोदा जच्चा बनी-२

हुआ रंगमहल में शोर सुनकर दाई चली
रंगमहल में नारा छिनाने लगी
बजो शंख घड़ियाल, लियो कृष्ण अवतार
यदुवंशी के घर में उजाला हुआ
हुए देवकी के लाल, यशोदा जच्चा बनी-२

हुआ रंगमहल में शोर सुनकर सासू चली
रंगमहल में चरुआ चढ़ाने लगी
बजो शंख घड़ियाल, लियो कृष्ण अवतार
यदुवंशी के घर में उजाला हुआ
हुए देवकी के लाल, यशोदा जच्चा बनी-२

हुआ रंगमहल में शोर सुनकर जिठनी चली
रंगमहल में पीपर पिसाने लगी
बजो शंख घड़ियाल, लियो कृष्ण अवतार
यदुवंशी के घर में उजाला हुआ
हुए देवकी के लाल, यशोदा जच्चा बनी-२

हुआ रंगमहल में शोर सुनकर ननदी चली
रंगमहल में छटनियाँ लिखाने लगी
बजो शंख घड़ियाल, लियो कृष्ण अवतार
यदुवंशी के घर में उजाला हुआ
हुए देवकी के लाल, यशोदा जच्चा बनी-२

हुआ रंगमहल में शोर सुनकर देवर चले
रंगमहल में वंशी बजाने लगे
बजो शंख घड़ियाल, लियो कृष्ण अवतार
यदुवंशी के घर में उजाला हुआ
हुए देवकी के लाल, यशोदा जच्चा बनी-२

हुआ रंगमहल में शोर सुनकर सखियाँ चली
रंगमहल में मंगल गवाने लगी
बजो शंख घड़ियाल, लियो कृष्ण अवतार
यदुवंशी के घर में उजाला हुआ
हुए देवकी के लाल, यशोदा जच्चा बनी-२

छपा दिया अखबार, लाल तेरे होने का – जच्चा बच्चा गीत हिंदी लिरिक्स – lok geet in hindi lyrics

छपा दिया अखबार, लाल तेरे होने का।
सासू जो आयीं चरुआ चढ़ाने,
दिला दिया एक हार, लाल तेरे होने का।
जिठनी जो आयीं, पिपरी पिसाने,
दिया उन्हें घर-बार, लाल तेरे होने का।
ननदी जो आयीं काजल लगाने,
दिला दिया उन्हें प्यार, लाल तेरे होने का।
देवर जो आये बंसी बजाने,
दिला दिया एक कार, लाल तेरे होने का।

जच्चा मेरी चतुर सुजान, लाल जाए हरे हरे – जच्चा बच्चा के नए गीत lyrics

जच्चा मेरी चतुर सुजान, लाल जाए हरे हरे, लाल जाए हीरी की कनी.
सासुल आए चरुआ चढ़ाए मांगे अपना नेग, देना हो तो दो मेरी जच्चा,
नाहीं लौट घर जाएँ, लाल जाए हरे हरे –

जिठनी आवें पलंग बिछावें मांगे अपना नेग, देना हो तो दो मेरी जच्चा,
नाहीं लौट घर जाएँ, लाल जाए हरे हरे –

नन्दी आएँ काजल लगाएँ मांगे अपना नेग, देना हो तो दो मेरी जच्चा,
नाहीं लौट घर जाएँ, लाल जाए हरे हरे –

सखियाँ आएँ सोहर गाएँ मांगें अपना नेग, देना हो तो दो मेरी जच्चा,
नाहीं लौट घर जाएँ, लाल जाए हरे हरे –

रुपईया मागें ननदी लल्ले की बधाई – Lokgeet in hindi

रुपईया मागें ननदी लल्ले की बधाई-2

ये तो रुपईया मेरे ससुर की कमाई
अठन्नी लैलो ननदी लल्ले की बधाई
रुपईया मागें ननदी लल्ले की बधाई-2

ये तो अठन्नी मेरे जेठ की कमाई
चवन्नी लैलो ननदी लल्ले की बधाई
रुपईया मागें ननदी लल्ले की बधाई-2

ये चवन्नी मेरे राजा की कमाई
दो अन्नी लैलो ननदी लल्ले की बधाई
रुपईया मागें ननदी लल्ले की बधाई-2

दो अन्नी मेरे देवर की कमाई
दो डंडा लैलो ननदी लल्ले की बधाई
रुपईया मागें ननदी लल्ले की बधाई-2

माथे लगी बेंदी, हाथों में लगी मेंहदी – Hindi Lokgeet Lyrics


माथे लगी बेंदी, हाथों में लगी मेंहदी-२
प्यारी सी जच्चा सजन संग चली
मेरी सासू के अरमान पूरे हुए, और
चरुवे की घड़ी में लालन हुए
मेरी प्यारी सासू को कंगन चाहिए-२
प्यारी सी जच्चा सजन संग चली.

माथे लगी बेंदी, हाथों में लगी मेंहदी-२
प्यारी सी जच्चा सजन संग चली
मेरी जिठनी के अरमान पूरे हुए, और
पिपरी की घड़ी में लालन हुए
मेरी प्यारी जिठनी को हरवा चाहिए-२
प्यारी सी जच्चा सजन संग चली.

माथे लगी बेंदी, हाथों में लगी मेंहदी-२
प्यारी सी जच्चा सजन संग चली
मेरी ननदी के अरमान पूरे हुए, और
छठी की घड़ी में लालन हुए
मेरी प्यारी ननदी को झाला चाहिए-२
प्यारी सी जच्चा सजन संग चली.

माथे लगी बेंदी, हाथों में लगी मेंहदी-२
प्यारी सी जच्चा सजन संग चली
मेरे देवर के अरमान पूरे हुए, और
वंशी की घड़ी में लालन हुए
मेरी प्यारे देवर को घड़ियाँ चाहिए-२
प्यारी सी जच्चा सजन संग चली.

माथे लगी बेंदी, हाथों में लगी मेंहदी-२
प्यारी सी जच्चा सजन संग चली
मेरी सखियों के अरमान पूरे हुए, और
मंगल की घड़ी में लालन हुए
मेरी प्यारी सखियों को लड्डू चाहिए-२
प्यारी सी जच्चा सजन संग चली.

झुकी है बदरिया कारी, कब आओगे गिरधारी – Lokgeet in hindi

झुकी है बदरिया कारी, कब आओगे गिरधारी।

उमड घुमड कर घिरी हैं घटाएँ,
घोर शब्द होए भारी,  कब आओगे गिरधारी।

धड धड कर यह जियरा धडके,
आए याद तुम्हारी, कब आओगे गिरधारी।

पी पी शोर मचाए पपीहा,
 कोयल अम्बुआ डाली, कब आओगे गिरधारी।

गरज गरज कर इन्द्र डरावे,
देख अकेली नारी, कब आओगे गिरधारी।

रिमझिम रिमझिम मेहा बरसे,
भीजे चुनर हमारी, कब आओगे गिरधारी।

ओ किशोर चितचोर साँवरे,
चाकर मैं शरणाई, कब आओगे गिरधारी।

एहसान मेरे दिल पर तुम्हारा है साजना – Hindi Lokgeet Lyrics

एहसान मेरे दिल पर तुम्हारा है साजना-२
जो तुमने दिया गोद खिलाने को लालना

सासू हमारी आयेगीं मतलब के वास्ते
मम्मी भी दौड़ी आएगी चरुवे के वास्ते
दोनों को नेग देना न मन घटाना
जो तुमने दिया गोद खिलाने को लालना

एहसान मेरे दिल पर तुम्हारा है साजना-२
जो तुमने दिया गोद खिलाने को लालना

जिठनी हमारी आयेगीं मतलब के वास्ते
भाभी भी दौड़ी आएगी पिपरी के वास्ते
दोनों को नेग देना न मन घटाना
जो तुमने दिया गोद खिलाने को लालना

एहसान मेरे दिल पर तुम्हारा है साजना-२
जो तुमने दिया गोद खिलाने को लालना

ननद हमारी आयेगीं मतलब के वास्ते
बहना भी दौड़ी आएगी छठी के वास्ते
दोनों को नेग देना न मन घटाना
जो तुमने दिया गोद खिलाने को लालना

एहसान मेरे दिल पर तुम्हारा है साजना-२
जो तुमने दिया गोद खिलाने को लालना

देवर हमारे आयेगें मतलब के वास्ते
भईया भी दौड़े आएगें वंशी के वास्ते
दोनों को नेग देना न मन घटाना
जो तुमने दिया गोद खिलाने को लालना

एहसान मेरे दिल पर तुम्हारा है साजना-२
जो तुमने दिया गोद खिलाने को लालना

क्या किए गोरी गगरिया के मोती – Hindi Lokgeet Lyrics

क्या किए गोरी गगरिया के मोती-२
एक शेर मोती मैंने सासू को दीन्हें
लालन के चरुआ चढाई, गगरिया के मोती

क्या किए गोरी गगरिया के मोती-२
एक शेर मोती मैंने जिठनी को दीन्हें
लालन की पिपरी पिसाई, गगरिया के मोती

क्या किए गोरी गगरिया के मोती-२
एक शेर मोती मैंने ननदी को दीन्हें
लालन की छठी लिखाई, गगरिया के मोती

क्या किए गोरी गगरिया के मोती-२
एक शेर मोती मैंने देवर को दीन्हें
लालन की वंशी बजाई, गगरिया के मोती
मेंहदी गीत
मेरी मेंहदी के हरे हरे पात, सांवरिया मेंहदी रंग भरी / हिन्दी लोकगीत
मेरी मेंहदी के हरे हरे पात,
सांवरिया मेंहदी रंग भरी।।
गोरी किन तुझे मेंहदी मंगा दई,
और किसको मेंहदी का चाव।।
सांवरिया मेंहदी….

मेरे ससुरा जी ने मेंहदी मंगाइयाँ,
मेरे जेठा जी ने मेंहदी मंगाइयाँ,
मेरी सासू जी को मेंहदी का चाव,
मेरी जिठनी जी को मेंहदी का चाव।
सांवरिया मेंहदी….

गोरी किन थारे हाथ रचाइयाँ,
और कौन थारा निरखन हार।।
सांवरिया मेंहदी….

मैं तो ओढ़ पहर पनियां चली,
सखि हाथों में चूड़ा काँच का,
थारी खूब बनी तकदीर।।
सांवरिया मेंहदी….

मेरी मेंहदी के हरे हरे पात,
सांवरिया मेंहदी रंग भरी।।
गोरी किन तुझे मेंहदी मंगा दई,
और किसको मेंहदी का चाव।।
सांवरिया मेंहदी….

मेरे देवर जी ने मेंहदी मंगाइयाँ,
मेरे ननदोई जी ने मेंहदी मंगाइयाँ,
मेरी देवरानी जी को मेंहदी का चाव,
मेरी ननद जी को मेंहदी का चाव।
सांवरिया मेंहदी….

गोरी किन थारे हाथ रचाइयाँ,
और कौन थारा निरखन हार।।
सांवरिया मेंहदी….

मैं तो ओढ़ पहर पनियां चली,
सखि हाथों में चूड़ा काँच का,
थारी खूब बनी तकदीर।।
सांवरिया मेंहदी….

मोरा जिया ललचाए हो – Lokgeet in hindi

मोरा जिया ललचाए हो,
झुमका लाद बालम,
मोरा जिया ललचाए हो,
झुमका लाद बालम।

तोहर बजरिया में सब कुछ बिकाला,
तोहर बजरिया में सब कुछ बिकाला,
फल फूल मेवा से दउरा भराला,
फल फूल मिठा से दउरा भराला,
दउरा,कोहडा करेला अब साग हो
लौका लाद बालम,
कोहडा करेला अब साग हो,
लौका लाद बालम।

मोरा जिया ललचाए हो,
झुमका लाद बालम,
मोरा जिया ललचाए हो,
झुमका लाद बालम।

झाँसी के झूला बनारस के साड़ी,
झाँसी के झूला बनारस के साड़ी,
जौनपूर के जारजेट में लागल किनारी,
लंहगा,लंहगा ली अइह गोटेदार हो,
लंहगा लाद बालम।

मोरा जिया ललचाए हो,
झुमका लाद बालम,
मोरा जिया ललचाए हो,
झुमका लाद बालम।

मोरा जिया ललचाए हो,
झुमका लाद बालम,
मोरा जिया ललचाए हो,
झुमका लाद बालम।

कच्ची पक्की कलियाँ हिलाया न करो – Hindi Lokgeet Lyrics


कच्ची पक्की कलियाँ हिलाया न करो-२
रोज़ रोज़ बन्ना तुम आया न करो…

माथे बन्नी के बेंदी सोहे -२,
अँखियन में झलक दिखाया न करो-२
रोज़ रोज़ बन्ना तुम आया न करो…

कच्ची पक्की कलियाँ हिलाया न करो-२
रोज़ रोज़ बन्ना तुम आया न करो…

कानों बन्नी के कुण्डल सोहे -२
होंठों पे झलक दिखाया न करो-२
रोज़ रोज़ बन्ना तुम आया न करो…

कच्ची पक्की कलियाँ हिलाया न करो-२
रोज़ रोज़ बन्ना तुम आया न करो…

हाथ बन्नी के कंगन सोहे -२
मेंहदी में झलक दिखाया न करो-२
रोज़ रोज़ बन्ना तुम आया न करो…

कच्ची पक्की कलियाँ हिलाया न करो -२
रोज़ रोज़ बन्ना तुम आया न करो…

चल बन्नी इस घर से बैठ मोटर में सजन घर जाना है – Lokgeet in hindi


चल बन्नी इस घर से बैठ मोटर में
सजन घर जाना है -२

कैसे चलूँ सजन के घर ओ कहार -२
दादा जी खड़े आँगन में लाज-शर्म मुझे आती है
ताऊ जी खड़े आँगन में लाज-शर्म मुझे आती है
चल बन्नी इस घर से बैठ मोटर में
सजन घर जाना है-२

कैसे चलूँ सजन के घर ओ कहार -२
पापा जी खड़े आँगन में लाज-शर्म मुझे आती है
चाचा जी खड़े आँगन में लाज-शर्म मुझे आती है
चल बन्नी इस घर से बैठ मोटर में
सजन घर जाना है -२

कैसे चलूँ सजन के घर ओ कहार -२
फूफा जी खड़े आँगन में लाज-शर्म मुझे आती है
मामा जी खड़े आँगन में लाज-शर्म मुझे आती है
चल बन्नी इस घर से बैठ मोटर में
सजन घर जाना है -२

मेंहदी बोवन मैं गई जी कोई छोटे देवर के साथ – Lok geet in hindi lyrics

मेंहदी बोवन मैं गई जी कोई छोटे देवर के साथ
मै बोये बिगे डेडसौ देवर न बिगै चार
मेंहदी रंगे भरा जी राज

मेहंदी सिचन मैं गई जी कोई छोटे देवर के साथ
मैं सिन्चे बिगे डेडसौ देवर न सिंचे चार
मेंहदी रंगे भरा जी राज

मेंहदी काटन मै गई जी कोई छोटे देवर के साथ
मैं काटे बिगे डेडसौ देवर न बिग चार
मेंहदी रंगे भरा जी राज

मेंहदी छानन मैं गई जी कोई छोटे देवर के साथ
मैं छाने बिगे डेडसौ देवर न बिगे चार
मेंहदी रंगे भरा जी राज

मेंहदी घोलन मै गई जी कोई छोटे देवर के साथ
मै घोला बिगे डेडसौ देवर न बिगे चार
मेंहदी रंगे भरा जी राज

मेंहदी लगावन मै गई जी कोई छोटे देवर के साथ
देवर रचाई छोटी आंगली भाभी ने दोनो हाथ
मेंहदी रंगे भरा जी राज

देवर दिखावे अपनी माँ ऐ न भाभी का पिया परदेष
पो पाटी तडका हुआ जी कोई गई तेली के पास
मेंहदी रंगे भरा जी राज

तेली बेटा तेल दे जी कोई आज जगे सारी रात
आज बडी का ओसरा जी कोई करे सोलह सिंगार
मेंहदी रंगे भरा जी राज

टग-टग महलों चड़ गई जी, मेरा जबरक दिवला हाथ
दिवला धरा दीवार पर जी खड़ी पलंग के पास
मेंहदी रंगे भरा जी राज

कहो तो साजन सोई सा कहो तो पाछी जाऊं
जाओ तो सुख सा सोई से रहो तो बैरन रात
मेंहदी रंगे भरा जी राज

टग-टग मेहला उतरी मेरे जबरक दिवला हाथ
छोटी पूछे ऐ बड़ी कहो रात की बात
मेंहदी रंग भरा जी राज

पिया पर पत्थर पड़ो सेजा में पड़ो अंगार
बड़ी कहव ऐ छोटी कोई कर सोहल सिंगार
मेंहदी रंगे भरा जी राज

हाथ साजन दे दिया करली मन की बात
टग-टग मेहला उतरी मेरा जबरक दिवला हाथ
मेंहदी रंग भरा जी राज

अम्बे की मेंहदी रचनी – Lokgeet in hindi

अम्बे की मेंहदी रचनी। गौरा की मेंहदी रचनी।
किन तेरे बाग लगाए और कौन सींचन जाए।।
म्हारै बाबा बाग लगाए, दादी सींचन जाए।।अम्बे…

किसने पिसाए पात री, किसयाँ के रच गए हाथ री।
म्हारै ताऊ पिसाए पात री, ताई के रच गए हाथ री।।
अम्बे…

अम्बे की मेंहदी रचनी। गौरा की मेंहदी रचनी।
किन तेरे बाग लगाए और कौन सींचन जाए।।
म्हारै पापा बाग लगाए, मम्मी सींचन जाए।।
अम्बे…

किसने पिसाए पात री, किसयाँ के रच गए हाथ री।
म्हारै चाचा पिसाए पात री, चाची के रच गए हाथ री।।
अम्बे…

अम्बे की मेंहदी रचनी। गौरा की मेंहदी रचनी।
किन तेरे बाग लगाए और कौन सींचन जाए।।
म्हारै भईया बाग लगाए, भाभी सींचन जाए।।
अम्बे…

किसने पिसाए पात री, किसयाँ के रच गए हाथ री।
म्हारै जीजा पिसाए पात री, दीदी के रच गए हाथ री।।
अम्बे…

आलू-मटर वाले ने, गलियों में जा के शोर किया रे – Hindi Lokgeet Lyrics

आलू-मटर वाले ने, गलियों में जा के शोर किया रे
बन्नी के बाबा बड़े कमाऊँ, भर भर दोने लाते है
बन्नी की दादी बड़ी चटोरी, भर भर दोने खाती है
चाटा पत्ता फेंक दिया, गलियों में जा के शोर किया रे

आलू-मटर वाले ने, गलियों में जा के शोर किया रे
बन्नी के ताऊ बड़े कमाऊँ, भर भर दोने लाते है
बन्नी की ताई बड़ी चटोरी, भर भर दोने खाती है
चाटा पत्ता फेंक दिया, गलियों में जा के शोर किया रे

आलू-मटर वाले ने, गलियों में जा के शोर किया रे
बन्नी के पापा बड़े कमाऊँ, भर भर दोने लाते है
बन्नी की मम्मी बड़ी चटोरी, भर भर दोने खाती है
चाटा पत्ता फेंक दिया, गलियों में जा के शोर किया रे

आलू-मटर वाले ने, गलियों में जा के शोर किया रे
बन्नी के फूफा बड़े कमाऊँ, भर भर दोने लाते है
बन्नी की बुआ बड़ी चटोरी, भर भर दोने खाती है
चाटा पत्ता फेंक दिया, गलियों में जा के शोर किया रे

आलू-मटर वाले ने, गलियों में जा के शोर किया रे
बन्नी के चाचा बड़े कमाऊँ, भर भर दोने लाते है
बन्नी की चाची बड़ी चटोरी, भर भर दोने खाती है
चाटा पत्ता फेंक दिया, गलियों में जा के शोर किया रे

आलू-मटर वाले ने, गलियों में जा के शोर किया रे
बन्नी के जीजा बड़े कमाऊँ, भर भर दोने लाते है
बन्नी की दीदी बड़ी चटोरी, भर भर दोने खाती है
चाटा पत्ता फेंक दिया, गलियों में जा के शोर किया रे

आलू-मटर वाले ने, गलियों में जा के शोर किया रे
बन्नी के भईया बड़े कमाऊँ, भर भर दोने लाते है
बन्नी की भाभी बड़ी चटोरी, भर भर दोने खाती है
चाटा पत्ता फेंक दिया, गलियों में जा के शोर किया रे

बन्ना बुलाए बन्नी नही आए – Lokgeet in hindi

बन्ना बुलाए बन्नी नहीं आए
आजा प्यारी बन्नी रे, अटरिया सूनी पड़ी
कैसे आऊं बनना ससुर जी खड़े है पायल मेरी बजती है
लम्बा घूँघट डाल के पायल उतार के
चली आओ बन्नी रे अटरिया सूनी पड़ी है

बन्ना बुलाए बन्नी नहीं आए
आजा प्यारी बन्नी रे, अटरिया सूनी पड़ी
कैसे आऊं बनना जेठ जी खड़े है चूड़ी मेरी बजती है
लम्बा घूँघट डाल के चूड़ी उतार के
चली आओ बन्नी रे अटरिया सूनी पड़ी है

बन्ना बुलाए बन्नी नहीं आए
आजा प्यारी बन्नी रे, अटरिया सूनी पड़ी
कैसे आऊं बनना देवर जी खड़े है झूमका मेरा बजता है
लम्बा घूँघट डाल के झूमका उतार के
चली आओ बन्नी रे अटरिया सूनी पड़ी है

बन्ना बुलाए बन्नी नहीं आए
आजा प्यारी बन्नी रे, अटरिया सूनी पड़ी
कैसे आऊं बनना ननदोई जी खड़े है बिछुआ मेरी बजती है
लम्बा घूँघट डाल के बिछुआ उतार के
चली आओ बन्नी रे अटरिया सूनी पड़ी है

आज तेरा श्रृंगार कराऊँ बन्ना रे – Hindi Lokgeet Lyrics

आज तेरा श्रृगार कराऊँ बन्ना रे
तोहे बांका-सा दुल्हा बनाऊँ बन्ना रे ।।

उबटन केसर करूँ, गंगाजल नीर भरूं।
तोहे मल मल के आज नहलाऊँ बन्ना रे

बाकी सी पगड़ी बाँधू, हीरे की कलंगी साँजू
तोहे केसरिया जामा पहनाऊ बन्ना रे ।।

नैनो मे कजरा साँजू हाथो मे कँगना बाँधू
तोहे पन्ने का हार पहनाऊ बन्ना रे ।।

जीवन मैं तोपै वारूं झोले भर मोती वारूं ।
तोंहे देख देख नैना रिझाऊ बन्ना रे ।।

आज तेरा श्रृगार कराऊँ बन्ना रे
तोहे बांका-सा दुल्हा बनाऊँ बन्ना रे ।।

इचक दाना बिचक दाना – Hindi Lokgeet Lyrics

इचक दाना बिचक दाना दाने ऊपर दाना इचक दाना……
छज्जे ऊपर बन्नी बैठी बन्ना है दिवाना इचक…
रोज सवेरे उठकर बन्ना गर्म समोसे लाता है
दादी को दिखला-दिखला कर बन्नी को खिलाता है
दादी के मुंह पानी आये कैसा है जमाना है इचक दाना…..
इचक दाना बिचक दाना दाने ऊपर दाना

इचक दाना बिचक दाना दाने ऊपर दाना इचक दाना……
छज्जे ऊपर बन्नी बैठी बन्ना है दिवाना इचक…
रोज सवेरे उठकर बन्ना गर्म समोसे लाता है
मम्मी को दिखला-दिखला कर बन्नी को खिलाता है
मम्मी के मुंह पानी आये कैसा है जमाना है इचक दाना…..
इचक दाना बिचक दाना दाने ऊपर दाना

इचक दाना बिचक दाना दाने ऊपर दाना इचक दाना……
छज्जे ऊपर बन्नी बैठी बन्ना है दिवाना इचक…
रोज सवेरे उठकर बन्ना गर्म समोसे लाता है
भाभी को दिखला-दिखला कर बन्नी को खिलाता है
भाभी के मुंह पानी आये कैसा है जमाना है इचक दाना…..
इचक दाना बिचक दाना दाने ऊपर दाना

कोका कोला मिलेगा दो-दो तोला मिलेगा – Hindi Lokgeet Lyrics


कोका कोला मिलेगा दो-दो तोला मिलेगा
बन्ने की बारात में

मैंने कहा था बन्ने तुम बाबा मत लाना
तुम ताऊ मत लाना, हमारी मुलाकात में
तुमने एक ना मानी, तुम बाबा संग आऐ
तुम ताऊ संग आऐ, हमारी मुलाकात में

फेरे तो ना लूंगी तेरे साथ में
मैनें कहा था बन्ने तुम अकेले ही आना
हमारी मुलाकात में

कोका कोला मिलेगा दो-दो तोला मिलेगा
बन्ने की बारात में

मैंने कहा था बन्ने तुम पापा मत लाना
तुम चाचा मत लाना, हमारी मुलाकात में
तुमने एक ना मानी, तुम पापा संग आऐ
तुम चाचा संग आऐ, हमारी मुलाकात में

फेरे तो ना लूंगी तेरे साथ में
मैनें कहा था बन्ने तुम अकेले ही आना
हमारी मुलाकात में

कोका कोला मिलेगा दो-दो तोला मिलेगा
बन्ने की बारात में

मैंने कहा था बन्ने तुम मामा मत लाना
तुम फूफा मत लाना, हमारी मुलाकात में
तुमने एक ना मानी, तुम मामा संग आऐ
तुम फूफा संग आऐ, हमारी मुलाकात में

फेरे तो ना लूंगी तेरे साथ में
मैनें कहा था बन्ने तुम अकेले ही आना
हमारी मुलाकात में

कोका कोला मिलेगा दो-दो तोला मिलेगा
बन्ने की बारात में

मैंने कहा था बन्ने तुम यार मत लाना
तुम दोस्त मत लाना, हमारी मुलाकात में
तुम मेरी ही मानी, तुम अकेले ही आये
हमारी मुलाकात में
फेरे तो मैं लूंगी तेरे साथ में।

कोका कोला मिलेगा दो-दो तोला मिलेगा
बन्ने की बारात में

चिक डाल दो कमरे में – मजेदार बन्ना बन्नी गीत lyrics

चिक डाल दो कमरे में बन्नी कैरम खेलेगी-२
अगर मैं बाजी जीती तो सुबह का नाश्ता बना देना
अगर मैं बाजी जीता तो तेरी दादी को ले जाऊँगा
उन्हें दादा के संग रक्खूँगा, नहीं फिर आने देने का

चिक डाल दो कमरे में बन्नी कैरम खेलेगी-२
अगर मैं बाजी जीती तो सुबह के कपड़े धो देना
अगर मैं बाजी जीता तो तेरी मम्मी को ले जाऊँगा
उन्हें पापा के संग रक्खूँगा, नहीं फिर आने देने का

चिक डाल दो कमरे में बन्नी कैरम खेलेगी-२
अगर मैं बाजी जीती तो सुबह के बर्तन धो देना
अगर मैं बाजी जीता तो तेरी भाभी को ले जाऊँगा
उन्हें भईया के संग रक्खूँगा, नहीं फिर आने देने का

चिक डाल दो कमरे में बन्नी कैरम खेलेगी-२
अगर मैं बाजी जीती तो रात का बिस्तर लगा देना
अगर मैं बाजी जीता तो तेरी दीदी को ले जाऊँगा
उन्हें जीजा के संग रक्खूँगा, नहीं फिर आने देने का

छज्जे ऊपर बन्ना बैठा दिल खोल के – मजेदार बन्ना बन्नी गीत lyrics

छज्जे ऊपर बन्ना बैठा दिल खोल के
बन्नी को बुलाये टेलीफोन कर के
कमरे में से दादी बोली हंस-हंस के
बन्नी नहीं आये टेलीफोन सुन के
जाओ जी बन्ना तो घोड़ी चंढ के
लाओ जी बन्ना गठ जोड़ा कर के

छज्जे ऊपर बन्ना बैठा दिल खोल के
बन्नी को बुलाये टेलीफोन कर के
कमरे में से मम्मी बोली हंस-हंस के
बन्नी नहीं आये टेलीफोन सुन के
जाओ जी बन्ना तो घोड़ी चंढ के
लाओ जी बन्ना गठ जोड़ा कर के

छज्जे ऊपर बन्ना बैठा दिल खोल के
बन्नी को बुलाये टेलीफोन कर के
कमरे में से भाभी बोली हंस-हंस के
बन्नी नहीं आये टेलीफोन सुन के
जाओ जी बन्ना तो घोड़ी चंढ के
लाओ जी बन्ना गठ जोड़ा कर के

बन्ना मेरा फ़ोटो में मचल गया रे – मजेदार बन्ना बन्नी गीत lyrics

बन्ना मेरा फ़ोटो पर मचल गया रे-२

बाबा जी एक अरज सुन लेना
बन्नी की फ़ोटो मँगवा देना
मैं काली, गोरी देखकर अपना ब्याह रचाऊंगा

बन्ना मेरा फ़ोटो पर मचल गया रे-२

ताऊ जी एक अरज सुन लेना
बन्नी की फ़ोटो मँगवा देना
मैं लम्बी, नाटी देखकर अपना ब्याह रचाऊंगा

बन्ना मेरा फ़ोटो पर मचल गया रे-२

पापा जी एक अरज सुन लेना
बन्नी की फ़ोटो मँगवा देना
मैं पढ़ी-लिखी देखकर अपना ब्याह रचाऊंगा

बन्ना मेरा फ़ोटो पर मचल गया रे-२

Gokul Mein Bajat Badhai – गोकुल में बजत बधाई – Hindi Lyrics

गोकुल में बजत बधाई ऐरी माई मैं सुन के आई
माता यशोदा बलि बलि जाये प्रगटे हैं कृष्ण कन्हाई

द्वारे भीड़ गोप गोपीन की रत्न भूमि सब छाई
नाचत वृद्ध तरुण अरु बालक रत्न भूमि सब छाई

झांझ म्रदंग मजीरा बाजेऔर बजत शहनाई
अति आनंद होत गोकुल में महिमा बरनि ना जाई
सूरदास स्वामी सुख सागर सुंदरश्याम कन्हाई 

भारत जैसे विशाल देश में ऐसे लोकगीतों की संख्या लाखों में होगी क्योंकि अलग अलग स्थानों में अलग अलग तरह के लोकगीत प्रचलित होते हैं जो वहां की संस्कृति और परंपरा को भी अपने आप में समेटे होते हैं। पर यहां पर मैं स्पष्ट कर दूँ कि मैंने यहां पर ज्यादातर लोकगीत उत्तर भारत से ही लिए हैं इसलिए अगर आपके स्थान के लोक गीत आप यहां इस लिस्ट में अपने नाम के साथ प्रकाशित करना चाहते हैं तो आप हमें कमेंट में इसके बारे में जानकारी दे सकते हैं।

See Also – खोइछा क्या है What is Khoichha

See Also – महाशिवरात्रि का पर्व किसलिए और कब मनाया जाता और इसकी पूरी कथा |Why mahashivratri is celebrated Hindi

See Also – सिद्धार्थ शुक्ला की जीवनी , एक होनहार अभिनेता की हार्ट अटैक से मृत्यु | Sidharth Shukla Biography, Heart Attack Death

See Also – Best 109 Ek Tarfa Pyar Shayari In Hindi लेटेस्ट दिल को छू लेने वाली एकतरफा प्यार की शायरी, कोट्स, स्टेटस इमेज के साथ One-Sided Love Shayari

See Also – 45 Interesting Facts about Elon musk in Hindi biography family career एलोन मस्क के बारे में 45 रोचक तथ्य

See More – Sadhguru Life Education Family and Quotes on Nature Mind Love and Life In Hindi { सद्गुरु का जीवन विकी और उनके कोट्स }

See More – सामन्था अक्किनेनी का जीवनी बायोग्राफी विकी | Samantha Akkineni Biography In Hindi Wiki

See Also – रश्मिका मंदाना का जीवन बायोग्राफी विकी | Rashmika Mandanna Biography In Hindi Wiki

See Also – एरिका फर्नांडीस की जीवनी बायोग्राफी विकी | Erica Fernandes Biography In Hindi Wiki

See Also – शिल्पा शुक्ला का जीवनी बायोग्राफी विकी | Shilpa Shukla Biography In Hindi Wiki

See Also – Best Marriage Anniversary Quotes in Hindi | Shadi Ki Salgirah Ke Liye Shayari

See Also – स्वतंत्रता दिवस पर स्पीच, निबंध और कोट्स Swatantrata diwas in hindi

See Also – बिग बॉस ओटीटी 15 की कंटेस्टेंट लिस्ट फोटो के साथ |Bigg Boss 15 contestants list in Hindi with photo

Conclusion

Popular Hindi Lokgeet Lyrics में हम सिर्फ Popular Hindi Lokgeet की बात ही कर रहे हैं ऐसे तो हमारे हजारों लोकगीत हैं जिनमे से काफी तो लुप्त भी हो गए हैं। बाकी भी न लुप्त हो जाये इसलिए हमारा ये प्रयास है कि Popular Hindi Lokgeet Lyrics को आप लोगों के लिए पब्लिश किया जाय और आप लोग इसे शेयर करके अपने मित्रों और रिश्तेदारों तक पहुंचायें जिससे इन Hindi Lokgeet का प्रचार हो और ये और ज्यादा समय तक हमारे कानो में शहद घोलते रहे।

Leave a Comment