Osho quotes on mind in Hindi osho ke vichar hindi mein {ओशो के विचार हिंदी में}

Best 63 Osho quotes on mind in Hindi osho ke vichar hindi mein

ओशो का चंद्रन मोहन जैन से ओशो बनने तक का सफर

Osho quotes on mind in Hindi osho ke vichar hindi mein
Osho quotes on mind in Hindi osho ke vichar hindi mein

ओशो जिनको हम रजनीश के नाम से भी जानते हैं जिनका पहले का नाम चंद्र मोहन जैन था। इनका जीवन काल 11 दिसम्बर 1931 – 19 जनवरी 1990 तक था। यह भारत और विदेशों में रजनीश आंदोलन के प्रणेता थे। अपने संपूर्ण जीवनकाल में आचार्य रजनीश को एक विवादास्पद रहस्यदर्शी और आध्यात्मिक शिक्षक के रूप में देखा गया। वे धार्मिक रूढ़िवादिता के बहुत कठोर आलोचक थे, जिसकी वजह से वह बहुत ही जल्दी विवादित हो गए और ताउम्र विवादित ही रहे।

ओशो या चन्द्र मोहन जैन का जन्म भारत के मध्य प्रदेश राज्य के रायसेन शहर के कुच्वाडा गांव में हुआ था। 1960 के दशक में वे ‘आचार्य रजनीश’ के नाम से एवं 1970 – 80 के दशक में भगवान श्री रजनीश नाम से और 1989 के समय से ओशो के नाम से जाने गये। वे एक आध्यात्मिक गुरु थे, तथा भारत व विदेशों में जाकर उन्होने प्रवचन दिये।

वे जबलपुर यूनिवर्सिटी में दर्शनशास्त्र के प्राध्यापक थे इस दौरान वे भारत भर में घूम घूम कर गांधीवाद और समाजवाद पर लेक्चर देकर अपनी आचार्य रजनीश के रूप में पहचान बना चुके थे पर उनके उन्मुक्त विचारों के कारण कुलपति ने उनका ट्रांसफर कर दिया। वे मानव कामुकता के प्रति स्वतंत्र दृष्टिकोण के भी हिमायती थे जिसकी वजह से उन्हें हर जगह आलोचना का पात्र बनना पड़ा और कई भारतीय और फिर विदेशी पत्रिकाओ में “सेक्स गुरु” के नाम से भी संबोधित किया गया।

1980 में जनता पार्टी सरकार के साथ मतभेद के बाद ओशो “अमेरिका” चले गए और वहां ओरेगॉन, संयुक्त राज्य की वास्को काउंटी में रजनीशपुरम की स्थापना की। 1985 में इस आश्रम में मास फ़ूड पॉइज़निंग की घटना के बाद उन्हें संयुक्त राज्य से निर्वासित कर दिया गया. 21 अन्य देशों से ठुकराया जाने के बाद वे वापस भारत लौटे और पुणे के अपने आश्रम में अपने जीवन के अंतिम दिन बिताये।

Osho ke suvichar hindi mein ओशो के सुविचार हिंदी में

osho quotes on unconditional love in hindi
osho quotes on unconditional love in hindi

सवाल ये नहीं है कि कितना सीखा जा सकता हैं बल्कि
सवाल ये है कि कितना भुलाया जा सकता है

जो छिन्न ही जायेगा उसको लूटने का मज़ा ले ही लो

किसी से किसी भी तरह की प्रतिस्पर्धा की आवश्यकता नहीं
आप स्वयं में जैसे हैं एकदम सही हैं, खुद को स्वीकारिए

ध्यान एक फूल है और दया इसकी खुशुबू

मनुष्य का हमेशा डर के माध्यम से शोषण किया जाता है।

दूसरों की इतनी चिंता मत करो
क्योंकि ये चिंता तिम्हारे अपने विकास को विचलित करेगी।

तुम्हारे दो शब्दों के बीच का मौन हूँ मैं
दोबारा मत पूछना कौन हूँ मैं

प्रेम तो एक तरफा ही होता है
दोतरफा तो व्यापार होता है

मुझसे न मांग मशवरे
मंदिर और मस्जिद के मसलों पर
मैं इंसान हूँ साहेब
खुद किराये के घर में

कभी ये मत पूछो “मेरा सच्चा दोस्त कौन है”
बल्कि पूछो “मैं किसका सच्चा दोस्त हूँ”
ये सही प्रश्न है

जिस दिन से यह जिंदगी व्यर्थ दिखाई पड़नी शुरू हो जाये,
उसी दिन असली जिंदगी शुरू होगी

आप वह बन जाते हैं जो आप सोचते हैं कि आप वो हैं

Osho quotes on mind in Hindi osho ke vichar hindi mein
Osho quotes on mind in Hindi osho ke vichar hindi mein

सवाल ये नहीं है कि जीवन मौजूद है या नहीं …
असली सवाल ये है कि आप जीवन से पहले मौजूद हैं कि नहीं

सफाई देने में, और स्पष्ट करने में अपना समय बर्बाद न करें
लोग वही सुनते हैं, जो वो सुनना चाहते हैं

तनाव का अर्थ है कि आप कुछ और होना चाहते हैं,
जो आप नहीं हैं

सत्य बहुत खतरनाक है उससे सावधान ही रहना, क्योंकि
जिसके भी जीवन के भ्रम टूट जातें है उसका जीना मुश्किल हो जाता है

ठोकरें खाकर भी ना संभलें तो मुसाफिर का नसीब,
वरना पत्थरों ने तो अपना फर्ज निभा ही दिया था

जब प्यार और नफरत दोनों ही ना हो तो हर चीज साफ़ और स्पष्ट हो जाती है

अपने बारे में तुम्हारी पूरी सोच उधार ली हुई है,
उन लोगों से जिन्हे खुद पता नहीं कि वे स्वयं कौन हैं

अकेला का अर्थ है – किसी की गैर मौजूदगी
एकांत का अर्थ है – मैं काफी हूँ

osho quotes in hindi with pictures
osho quotes in hindi with pictures

केवल वो लोग जो कुछ भी नहीं बनने के लिए तैयार हैं प्रेम कर सकते हैं

यहाँ कोई भी आपका सपना पूरा करने के लिए नहीं है,
हर कोई अपनी तकदीर और अपनी हक़ीकत बनाने में लगा है

जितनी ज़्यादा ग़लतियां हो सकें उतनी ज़्यादा ग़लतियां करो,
बस एक बात याद रखना फिर से वही ग़लती मत करना,
और देखना, तुम प्रगति कर रहे होंगे

जिसके साथ होकर भी तुम अकेले रह सको,
वही साथ करने के योग्य है

सर्वाधिक आनंद उन्हें प्राप्त होता है जो अकेले रहने की कला सीख जाते हैं

जीवन एक चक्रव्यूह है जो निकल गया बादशाह
और जो फंस गया वो भिखारी

आपके भीतर जो बैठा है उससे मूल्यवान और कोई नहीं
आपके भीतर जो बैठा है उससे पूज्य और कोई नहीं
आपके भीतर जो बैठा है उससे श्रेष्ठ और कोई नहीं

“सत्य” सभी का एक ही होता है, झूठ सबके अलग अलग

लोग कहते हैं जीवन व्यर्थ है।
ये नहीं कहते कि हमारे जीने का ढंग व्यर्थ है।
और तुम्हारे तथाकथित साधु-संत, महात्मा भी तुमको यही समझाते हैं
कि “जीवन व्यर्थ है”

कई बार पाप लो पीड़ा मनुष्य को,
परमात्मा के पास पहुंचा देती है
और पुण्य का अधिकार मनुष्य को
परमात्मा से दूर कर देता है।

जिंदगी में आप जो करना चाहते हैं, वो जरूर कीजिए,
ये मत सोचिए कि लोग क्या कहेंगे।
क्योंकि लोग तो तब भी कुछ कहते हैं,
जब आप कुछ नहीं करते।

जीवन ठेहराव और गति के बीच का संतुलन है.

अगर आप सच देखना चाहते हैं तो ना सहमती और ना असहमति में राय रखिये

osho quotes in hindi on love
osho quotes in hindi on love

Osho Quotes on Life in Hindi

कोई चुनाव मत करिए. जीवन को ऐसे अपनाइए जैसे वो अपनी समग्रता में है

जीवन कोई त्रासदी नहीं है; ये एक हास्य है. जीवित रहने का मतलब है हास्य का बोध होना

अधिक से अधिक भोले, कम ज्ञानी और बच्चों की तरह बनिए.
जीवन को मजे के रूप में लीजिये – क्योंकि वास्तविकता में यही जीवन है

जब आप अलग हैं, तो पूरी दुनिया अलग है.
ये दूसरी दुनिया बनाने का सवाल नहीं है.
ये केवल एक अलग आप बनाने का सवाल है.

जिस दिन आप ने सोच लिया कि आपने ज्ञान पा लिया है,
आपकी मृत्यु हो जाती है- क्योंकि अब ना कोई आश्चर्य होगा, ना कोई आनंद और ना कोई अचरज. अब आप एक मृत जीवन जियेंगे.

मनुष्य खुद ईश्वर तक नहीं पहुँचता है,
बल्कि जब वह तैयार होता है
तो ईश्वर खुद उसके पास आ जाते हैं

मित्रता शुद्धतम प्रेम है. ये प्रेम का सर्वोच्च रूप है जहाँ कुछ भी नहीं माँगा जाता ,
कोई शर्त नहीं होती , जहां बस देने में आनंद आता है

osho poems on love in hindi
osho poems on love in hindi

वो जो आपको दुखी बनाता है केवल वही पाप है.
वो जो आपको खुद से दूर ले जाता है केवल उसी से बचने की ज़रूरत है

आत्मज्ञान एक समझ है कि यही सबकुछ है, यही बिलकुल सही है ,
बस यही है. आत्मज्ञान कोई उप्लाब्धि नही है,
यह ये जानना है कि ना कुछ पाना है और ना कहीं जाना है

वो कहते हैं कूदने से पहले दो बार सोचो
पहले कूदो फिर जितना चाहे उतना सोचो

मूर्ख दूसरों पर हँसते हैं और बुद्धिमान खुद पर

अंधेरा, प्रकाश की अनुपस्थिति है. अहंकार, जागरूकता की अनुपस्थिति है

कोई विचार नहीं, कोई बात नहीं, कोई विकल्प नहीं – शांत रहो, अपने आप से जुड़ो

जब भी कभी तुम्हें डर लगे, तलाशने का प्रयास करो.
और तुमको पीछे छिपी हुई मृत्यु मिलेगी.
सभी भय मृत्यु के हैं. मृत्यु एकमात्र भय-स्रोत है

एक भीड़, एक राष्ट्र, एक धर्म, एक जाति का नहीं पूरे अस्तित्व का हिस्सा बनो.
अपने को छोटी चीज़ों के लिए क्यों सीमित करना सब संपूर्ण उपलब्ध है?

आपके जैसा इंसान दुनिया में कभी नही होंगा,
दुनिया में अभी आपके जैसा दूसरा इंसान कही नही है,
और ना ही आपके जैसा कभी भविष्य में कोई होंगा।

बुद्धि कभी भी एक सीमा में रहने से नही बढती, बुद्धि तो प्रयोगों से बढती है।
बुद्धि हमेशा चुनौतियों को अपनाने से ही बढती है।

अपने मन में जाओ, अपने मन का विश्लेषण करो. कहीं न कहीं तुमने खुद को धोखा दिया है

खुद में जीवन का कोई अर्थ नहीं. जीवन अर्थ बनाने का अवसर है

जिंदगी अपने आप में ही बहोत सुन्दर है,
इसीलिए जीवन के महत्त्व को पूछना ही सबसे बड़ी मुर्खता होंगी।

जो कुछ भी महान है उस पर किसी का अधिकार नहीं हो सकता.
और यह सबसे मूर्ख बातों में से एक है जो मनुष्य करता है – मनुष्य अधिकार चाहता है

प्यार तभी प्रामाणिक होता है जब वह स्वतंत्रता देता है।

आप सत्य को बाहर खोजेंगे तो नहीं मिलेगा।
यह आपके अंदर ही हैं जिसका केवल अहसास किया जा सकता है।

जब मै कहता हूँ की तुम ही देवता हो और तुम ही देवी हो तो मेरा मतलब यह होता है की
तुम्हारी संभावनाये अनंत है और तुम्हारी क्षमता भी अनंत है।

जो बीत गया उसे सोच सोच कर चिंतित न हों।
जिन पाठों को आप पढ़ चुके हैं, उन्हें बंद करते जाएँ। उन्हें वापस न पढ़ें।

यदि आप अपनी ख़ुशी के लिए दूसरों पर निर्भर रहते हो तो आप एक गुलाम हो।

आपके लिए एक चीज़ सबसे ज्यादा महत्वपूर्ण हैं वो है आपकी अपने बारे में राय।

कभी भी अपने दुख पर ज्यादा ध्यान मत दो, क्योंकि ध्यान भोजन के समान है,
आप जितना ध्यान देते हो तो वो चीज़ उतनी ही मजबूत होती जाती है।

जैसे जैसे आप जागरूक होते जाते हैं आपकी इच्छाएं शांत होती जाती हैं।
पूर्ण रूप से जागरूक होने पर कोई इच्छा नहीं रहती।

उत्सव का अर्थ है, इस पूरी यात्रा को छोड़ देना – बस यहाँ होना (वर्तमान में होना)।
जब सब गायब हो जाता है, तो बनने का सारा धुआं गायब हो जाता है,
वहाँ होने की लौ है, और यह बहुत ही उत्सव है।

कल कभी नहीं आता। जो है बस आज है

मैं अपने जीवन को 2 सिद्धांतों पर आधारित मानता हूं।
पहला, मैं ऐसे रहता हूं जैसे कि आज पृथ्वी पर मेरा आखिरी दिन था।
दूसरा, मैं आज ऐसे जी रहा हूं जैसे मैं हमेशा के लिए जीने वाला हूं।

जागरूकता लगभग जादू की तरह काम करती है।

लोग कहते हैं की प्यार अँधा होता हैं, मैं कहता हूँ बस प्यार की ही आखें हैं
बाकि सब कुछ अँधा है।

दोस्तों ओशो के सुविचार आपको कैसे लगे ये अवश्य हमें बताएं। जहाँ तक मेरा विचार है ओशो के विचार आज भी हमारे लिए क्रन्तिकारी ही है वो हमें पूरी तरह से जागरूक और शांत बनने की प्रेरणा देते हैं। और शांत होकर अपने प्रयासों को बढ़ाने के लिए प्रत्साहित करते हैं साथ ही वो व्यक्तिगत स्वतंत्रता पर बहुत ज्यादा महत्व देते हैं। उम्मीद है हमारा ये पोस्ट आपको जरूर पसंद आया होगा। प्लीज इसे अपने मित्रों के साथ अवश्य शेयर करें।

See More – My Life My Rules Quotes In Hindi Mera Jivan Mere Niyam Quotes Status Images { मेरा जीवन मेरे नियम }

See More – Galatfehmi Quotes aur Status Hindi me Misunderstanding Quotes Shayari { ग़लतफ़हमी कोट्स और स्टेटस हिंदी में }

See More – Quotes about school life in Hindi with images Shayari Status

See More – Painful Quotes In Hindi For Love Shayari Photos { प्यार की दर्द भरी शायरी }

Leave a Comment